नई दिल्ली : दिल्ली डेयरडेविल्स के विकेटकीपर ऋषभ पंत का हाल ही में श्रीलंका में हुए टी-20 ट्राइ सीरीज में प्रदर्शन असरदार नहीं रहा, लेकिन इस युवा खिलाड़ी ने यहां कहा कि भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री से बातचीत से उन्हें काफी फायदा हुआ है. पंत ने कहा कि शास्त्री ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आगामी संस्करण के लिए उन्हें कुछ खास कौशल में सुधार करने लिए कुछ सुझाव दिये है. पंत को श्रीलंका में दो मैचों में मौका मिला था,  जिसमें उन्होंने 23 और सात रन की पारी खेली थी.

दिल्ली डेयरडेविल्स के अभ्यास सत्र के इतर पंत ने कहा, ‘मैं अपने कोच तारक सिंह (सोनेट कोच) के साथ कुछ खास कौशल और फिटनेस पर मेहनत कर रहा हूं. रवि शास्त्री से मेरी चर्चा हुई. उन्होंने मुझे कुछ कौशल पर काम करने की सलाह दी, जिसे मैं अपने खेल में लागू करने की कोशिश कर रहा हूं.’

शास्त्री से बातचीत के बारे में पूछे जाने पर पंत ने कहा, ‘यह कोच और खिलाड़ी के बीच की बात है. मैं उसका खुलासा नहीं कर सकता. यह अच्छी बातचीत थी. भारतीय ड्रेसिंग रूम का माहौल शानदार है. मैंने काफी कुछ सीखा. असफलता अक्सर आपको बहुत कुछ सिखाती हैं और उम्मीद है कि मैं अच्छी वापसी करूंगा.’

टी-20 में सबसे तेज शतक लगा चुके हैं पंत
ऋषभ पंत टी-20 में सबसे तेज शतक लगाने वाले भारतीय बल्लेबाज बन चुके हैं. उन्होंने यह मुकाम सयैद मुश्ताक अली ट्रॉफी में हिमाचल प्रदेश के खिलाफ अपने नाम किया था. पंत ने इस मैच में सिर्फ 32 गेंदों में शतक जड़ा। यह टी-20 में किसी भी बल्लेबाज द्वारा जड़ा गया दूसरा सबसे तेज शतक है.

टी-20 में सबसे तेज शतक वेस्टइंडीज के क्रिस गेल के नाम है. गेल ने पंत से दो गेंद कम में शतक जड़ा था. पंत इस मैच में 38 गेंदों पर 116 रन बनाकर नाबाद लौटे. गेल ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल)-2013 में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर की तरफ से खेलते हुए पुणे वॉरियर्स के खिलाफ 30 गेंदों में शतक जड़ा था. टी-20 में सबसे तेज शतक लगाने वाले भारतीय बल्लेबाजों के मामले में दूसरा नंबर रोहित शर्मा का है.

विदेश