RRB recruitment 2018: रेलवे में निकलीं 90 हजार वैकेंसी जल्द ही बढ़कर 1 लाख 10 हजार हो जाएंगी। भारतीय रेलवे ने ऐलान किया है कि नौकरियों की संख्या 90 हजार से बढ़ाकर 1 लाख 10 हजार की जाएंगी। आरपीएफ (रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स) और आरपीएसएफ (रेलवे प्रोटेक्शन स्पेशल फोर्स) में 9 हजार से ज्यादा भर्तियां निकलेंगी। इसके अलावा L-2 में 10 हजार से ज्यादा अतिरिक्त नौकरियां निकलेंगी। आरपीएफ और आरपीएसएफ के लिए अधिसूचना 19-25 मई 2018 के रोजगार समाचार में प्रकाशित होगी। भारतीय रेलवे ने यह जानकारी अखबारों में विज्ञापन प्रकाशित कर दी है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रेलवे सुरक्षा बल में पुरुषों और महिलाओं के लिए कांस्टेबल व सब-इंस्पेक्टर के पद पर भर्तियां निकलेंगी। कांस्टेबल के लिए 10वीं पास और सब-इंस्पेक्टर के लिए ग्रेजुएट युवा आवेदन कर सकेंगे। महिलाओं के लिए भी बड़ी संख्या में पद आरक्षित किए जा रहे हैं। ऐसी खबरें हैं कि 1 जून से 30 जून तक के बीच रेलवे सुरक्षा बल के लिए आवेदन स्वीकार किए जाएंगे। 

इसके अलावा रेलवे ने वर्तमान में जो ग्रुप डी (62000) और ग्रुप सी (टेक्नीशियन व असिस्टेंट लोको पायलट) के पदों पर 90 हजार भर्तियां निकाली हुई हैं, उसके लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 मार्च, 2018 है। 26 मार्च तक इन पदों के लिए 2 करोड़ से भी ज्यादा युवा आवेदन कर चुके हैं। आवेदन की अंतिम तिथि तक ये आंकड़ा और भी बढ़ेगा। अधिकारी ने कहा कि सहायक लोको पायलट और टेक्नीशियन के ही 50  लाख से अधिक ऑनलाइन आवेदन प्राप्त हुए हैं। 

यह रेलवे की अभी तक की सबसे बड़ी भर्ती प्रक्रिया है। इतनी बड़ी तादाद में आवेदनकों के परीक्षा में शामिल होने पर यह परीक्षा कराना भी रेलवे के लिए एक बड़ी चुनौती होगी।

90 हजार भर्तियों को लेकर एक रेलवे अधिकारी ने कहा कि नियुक्ति प्रक्रिया में डेढ़ से दो साल का समय लगने की संभावना है। इन परीक्षाओं के लिए कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट अप्रैल-मई 2018 में हो सकता है।  इन पदों के लिए आवेदन सिर्फ ऑनलाइन मोड से ही किया जा सकता है। आपको बता दें कि इस परीक्षा के लिए प्रश्नपत्र 15 भाषाओं में उपलब्ध होगा जिनमें हिंदी, अंग्रेजी, उर्दू, बंगाली, पंजाबी, गुजराती, कन्नड़, कोंकणी, असमिया, मलयालम, मणिपुरी, मराठी, उड़िया, तमिल और तेलुगु शामिल हैं। 

विदेश