भ्रष्टाचार के आरोपों में सीबीआई की कस्टडी झेल रहे कांग्रेस नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम का कहना है कि सीबीआई की वजह से उनकी भूख मर गई है और उनका वजन काफी कम हो गया है. कार्ति ने कहा कि अगर किसी को वेट लॉस करना है, तो उसे सीबीआई से संपर्क करना चाहिए.

सोमवार को एक स्पेशल कोर्ट में सुनवाई के बाद कार्ति को 24 मार्च तक के लिए दिल्ली के तिहाड़ जेल भेज दिया गया. इस दौरान कार्ति ने बताया कि 'मेरी भूख मर गई है, मैं बहुत कम खा रहा हूं. इस वजह से मेरा काफी वजन कम हो गया है. वैसे ये अच्छी बात भी है.'

कार्ति ने हंसते हुए कहा कि उनका वजन इतना कम हो गया है कि उनके पुराने कपड़े अब बिल्कुल ढीले हो गए हैं. इसलिए अगर किसी को अपना वजन कम करना है तो उसे सीबीआई से संपर्क करना चाहिए.

हालांकि उन्होंने बताया कि उन्हें सीबीआई के अधिकारियों से कोई शिकायत नहीं है. सभी बहुत ही प्रोफेशनल तरीके से उनके साथ पेश आए.

कार्ति ने बताया कि कस्टडी के दौरान उनको मोबाइल और यहां तक की घड़ी तक रखने की इजाजत नहीं थी. उन्होंने कहा कि ये अच्छा अनुभव था. मैं अधिकारियों से बार-बार टाइम पूछा करता था.

बता दें कि रिश्वत लेने के आरोप में कार्ति चिदंबरम को सोमवार को फिर से कोर्ट में पेश किया गया था. दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में सुनवाई के बाद उन्हें 12 दिन की न्यायिक हिरासत में 24 मार्च तक के लिए तिहाड़ जेल भेज दिया गया है. साथ ही उन्हें कोई विशेष सुरक्षा नहीं दी जाएगी.

कार्ति पर आरोप लगे हैं कि उन्होंने अपने पिता और तत्कालीन वित्त मंत्री पी. चिदंबरम की मदद से आईएनएक्स मीडिया ग्रुप में विदेशी निवेश का रास्ता साफ करने के लिए रिश्वत ली.

विदेश