भारतीय एयरलाइंस इंडिगो को मंगलवार को अपनी 47 फ्लाइट्स रद्द करनी पड़ी, क्योंकि उसके एक खास तरह के इंजनों में खराबी आ रही थी. विमानन नियामक नागरिक विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने इंडिगो और गो एयर को 11 ए 320 नियो विमानों की उड़ानों को तुरंत प्रभाव से रोक लगाने का आदेश दिया है. गोएयर की भी 3 फ्लाइट्स रद्द हुई हैं. डीजीसीए ने मंगलवार को ही तुरंत प्रभाव से ये आदेश दिया क्योंकि इंडिगो की एक फ्लाइट के इंजन ने आसमान में ही काम करना बंद कर दिया था, जिसकी वजह से फ्लाइट को 40 मिनट के अंदर ही लैंड करना पड़ा.

कंपनी की तरफ रद्द की गई फ्लाइट्स में दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता, हैदराबाद, बेंगलुरु, पटना, श्रीनगर, भुवनेश्वर, अमृतसर और गुवाहाटी की फ्लाइट्स शामिल हैं. अचानक रद्द की गई इन फ्लाइट्स से कई मुसाफिरों को काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है.

क्या थी समस्या?

दरअसल इन विमानों में एक खास सीरीज़ के प्रैट एंड व्हिटनी इंजन लगे हैं, जिनमें उड़ान के दौरान ही बंद होने की शिकायत आ रही थी. बीते एक महीने से भी कम वक्त में तीन बार इन इंजनों ने बीच आसमान में ही काम करना बंद कर दिया, जिसके बाद डीजीसीए ने यह कदम उठाया गया है.

ऐसे विमानों में सुरक्षा को लेकर चिंतित डीजीसीए ने यह निर्णय इंडिगो के ए320 नियो विमान का आसमान में इंजन फेल हो जाने की घटना के कुछ ही घंटे में लिया है. इस विमान के इंजन फेल होने के कारण अहमदाबाद एयरपोर्ट पर सोमवार को इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी थी.

कुल 14 ए 320 नियो विमान में ख़ास सीरीज़ के इंजन लगे हैं. इसमें 11 विमान इंडिगो के हैं, जबकि तीन विमान गो एयर के पास हैं. डीजीसीए के इस आदेश के बाद इन सभी विमानों को रद्द कर दिया है. इसी समस्या के कारण इंडिगो के तीन विमान पहले से उड़ान नहीं भर रहे.

डीजीसीए ने क्या कहा?

विमान संचालन में सुरक्षा का हवाला देते हुए डीजीसीए ने कहा कि ईएसएन 450 से अधिक क्षमता वाले प्रैट एंड व्हिटनी 1100 इंजन वाले ए320 नियो विमानों की उड़ान पर तुरंत प्रभाव से रोक लगा दी गई है.

डीजीसीए  ने कहा, 'इंडिगो और गो एयर दोनों से कहा गया है कि वह इन इंजनों को नहीं लगाएं. ये इंजन उनके पास स्टॉक में अतिरिक्त संख्या में उपलब्ध हैं.' नियामक ने कहा है कि वह इस मुद्दे पर सभी संबंधित पक्षों के साथ संपर्क में रहेगा और जब यूरोपीय नियामक ईएएसए और प्रैट एंड व्हिटनी इस मुद्दे का समाधान करेंगे वह भी स्थिति की समीक्षा करेगा.

इस मामले पर इंडिगो के एक प्रवक्ता ने कहा, 'हमें डीजीसीए से पत्र मिला है और हम तुरंत डीजीसीए के निर्देशों का पालन करेंगे.' गो एयर के प्रवक्ता ने कहा, 'कंपनी को डीजीसीए से निर्देश मिला है. इसमें पीएंडडब्ल्यू जीटीएफ इंजन वाने विमानों का परिचालन रोकने को कहा गया है.' पीएंडडब्ल्यू ने एक बयान में कहा कि वह इस मसले के हल के लिए ग्राहकों के साथ मिलकर काम कर रही है.

दिल्ली में गो एयर के विमान की आपात लैंडिंग

इधर मुंबई जाने वाले गो एयर के एक विमान में तकनीकी खराबी आने के कारण दिल्ली एयरपोर्ट पर उसकी इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी.

एयरपोर्ट के एक अधिकारी ने बताया कि विमान ने रात करीब10 बजे इमरजेंसी लैंडिंग की.

गो एयर ने एक बयान में बताया कि उड़ान संख्या जी8 446 में तकनीकी खराबी आई थी. विमान में 176 यात्री सवार थे. विमान की जांच की जा रही है और यात्रियों को दूसरे विमान में भेजा गया है.

विदेश