Home बिजनेस सेंसेक्स 1145 अंक फिसलकर 49744 पर बंद, टेक शेयरों में भारी बिकवाली

सेंसेक्स 1145 अंक फिसलकर 49744 पर बंद, टेक शेयरों में भारी बिकवाली

18
0

मुंबई। कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह से निवेशकों ने सोमवार को जमकर शेयर बेचे। शेयर बाजार लगातार पाचवें दिन गिरावट के साथ बंद हुआ है। BSE सेंसेक्स 1,145 अंक नीचे 49,744.32 पर बंद हुआ। सुबह इंडेक्स ने दिन के सबसे ऊंचे स्तर 50,986.03 को भी टच किया। चौतरफा गिरावट के चलते लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 4.1 लाख करोड़ रुपए घटकर 199.88 लाख करोड़ रुपए हो गया है, जो शुक्रवार को 203.98 लाख करोड़ रुपए था।
जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेस के रिसर्च हेड विनोद नायर ने कहा कि कोरोना के बढ़ते मामलों से बाजार का सेंटिमेंट बिगड़ गया। गिरावट को ग्लोबल मार्केट में बढ़ते बॉन्ड यील्ड और महंगाई का सपोर्ट मिला। निवेशकों को गिरावट के बीच खरीदारी की सलाह है।
शेयर बाजार में गिरावट की बड़ी वजह
निवेशक देश में कोरोना के बढ़ते मामलों से नर्वस हैं, क्योंकि महाराष्ट्र, केरल सहित देश के16 राज्यों में मामले लगातार बढ़ रहे हैं।
यूरोप के शेयर बाजार दोपहर को भारी गिरावट के साथ खुले। इसमें ब्रिटेन का FTSE इंडेक्स, फ्रांस का CAC और जर्मनी का DAX शामिल है। इंडेक्स में 1-1% से ज्यादा की गिरावट है।
घरेलू बाजार के प्रमुख शेयरों में भारी गिरावट रही। इनमें रिलायंस इंडस्ट्रीज, TCS, इंफोसिस, HCL टेक, सहित SBI शामिल हैं।एक्सचेंज पर 62% शेयरों में गिरावट
सेंसेक्स में टेक महिंद्रा और M&M के शेयरों में सबसे ज्यादा 4-4% की गिरावट दर्ज की गई। इसके अलावा इंडसइंड बैंक,TCS और SBI के शेयरों में भी 3-3% गिरावट रही। दूसरी ओर ONGC, कोटक महिंद्रा और HDFC बैंक के शेयर हल्की बढ़त के साथ बंद हुए हैं। एक्सचेंज पर 3,179 शेयरों में कारोबार हुआ, जिसमें 1,039 शेयरों में बढ़त और 1,984 में गिरावट रही।
HDFC सिक्योरिटीज के रिटेल रिसर्च हेड दीपक जसानी के मुताबिक ज्यादातर एशियाई बाजारों में गिरावट रही। इसकी मुख्य वजह महंगाई, हाई वैल्युएशन और पॉलिसी में सख्ती है। उन्होंने बताया कि कच्चे तेल की बढ़ती कीमत अर्थव्यवस्था बड़े स्तर पर प्रभावित कर रही है। गिरावट को मुनाफावसूली भी कहा जा सकता है, क्योंकि 2021 में जनवरी से अब तक बाजार लगातार चढ़ रहा है।
IT,ऑटो और बैंकिंग के शेयरों में बिकवाली
निवेशकों ने IT, बैंकिंग और ऑटो सेक्टर के शेयरों को जमकर बेचा। नतीजतन, IT इंडेक्स 736 अंक यानी 2.89% नीचे 24,766.45 पर बंद हुआ है। निफ्टी इंडेक्स भी 306 अंक नीचे 14,675.70 पर बंद हुआ है। 5 सत्रों की गिरावट में निफ्टी अपने ऑलटाइम हाई से 5% नीचे आ गया है। दूसरी ओर मेटल शेयरों में खरीदारी के चलते इंडेक्स 57 अंकों की बढ़त के साथ 3,609.10 पर बंद हुआ है। हिंदुस्तान कॉपर का शेयर सबसे ज्यादा 14% ऊपर बंद हुआ है।
भारी विदेशी निवेश लगातार जारी
देश में आर्थिक सुधार और बजट से बने सेंटिमेंट के चलते निवेशकों ने जमकर निवेश किया है। NSE प्रोविजनल डेटा के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों (FII) ने 118.75 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे, जबकि घरेलू संस्थागत निवेशकों (DII) ने 1,174.98 करोड़ रुपए के शेयर बेचे थे। डिपोजिटरीज डेटा के मुताबिक 1-19 फरवरी के बीच फॉरेन पोर्टफोलियो इन्वेस्टर्स (FPI) ने 24,965 करोड़ रुपए का निवेश किया है। इक्विटी मार्केट में 24,204 करोड़ रुपए और डेट या मनी मार्केट में 761 करोड़ रुपए का निवेश किया है।
ग्लोबल मार्केट में उतार-चढ़ाव
ग्लोबल मार्केट में हॉन्गकॉन्ग के हेंगसेंग इंडेक्स 414 अंक और चीन का शंघाई कंपोजिट इंडेक्स 53 अंक नीचे बंद हुआ है। इसी तरह कोरिया का कोस्पी इंडेक्स 27 अंक नीचे 3,079 पर बंद हुआ है। दूसरी ओर जापान का निक्केई इंडेक्स 153 अंकों की बढ़त के साथ 30,171 पर बंद हुआ है। इससे पहले अमेरिका के शेयर बाजारों भी सपाट बंद हुए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here